अर्पिता मुखर्जी के फ्लैट में नोटों का जखीरा

पश्चिम बंगाल: पश्चिम बंगाल में शिक्षक भर्ती घोटाला से जुड़े मामले की जांच कर रहे  ईडी को अर्पिता मुखर्जी के एक और फ्लैट से बुधवार को भारी मात्रा में नकदी मिली. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी, अर्पिता मुखर्जी को राज्य के उद्योग मंत्री पार्थ चटर्जी का करीबी माना जाता है, जिन्हें एजेंसी ने इसी मामले में गिरफ्तार किया है|

ईडी ने अर्पिता मुखर्जी को उनके दक्षिण कोलकाता स्थित फ्लैट से 21 करोड़ रुपये की नकदी मिलने के एक दिन बाद 23 जुलाई को गिरफ्तार किया था| अधिकारी ने बताया कि इस बार उत्तर कोलकाता के बेलघरिया स्थित फ्लैट से नकदी मिली है, जिसकी मालकिन अर्पिता मुखर्जी हैं| अधिकारी ने कहा कि बेलघरिया के रथाला इलाके में अर्पिता के दो फ्लैट को ताला तोड़कर खोला गया, क्योंकि उनकी चाबी नहीं मिली|

पश्चिम बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी को भुवनेश्वर स्थित एम्स में चिकित्सकीय जांच के बाद ओडिशा से मंगलवार को सुबह कोलकाता लाया गया| पार्थ चटर्जी को शिक्षक भर्ती घोटाले में गिरफ्तार किया गया है| अधिकारियों ने बताया कि पार्थ चटर्जी को प्रवर्तन निदेशालय के सीजीओ कॉम्प्लेक्स स्थित कार्यालय लाया गया| इस दौरान चटर्जी व्हीलचेयर पर नजर आए| यहां उनसे पश्चिम बंगाल के शिक्षक भर्ती घोटाले के सिलसिले में पूछताछ की जाएगी| सरकारी स्कूलों और सहायता प्राप्त स्कूलों में शिक्षक भर्ती घोटाले के वक्त चटर्जी के पास शिक्षा विभाग का प्रभार था| बाद में उनसे यह विभाग ले लिया गया| प्रवर्तन निदेशालय ने उन्हें मामले में शनिवार को गिरफ्तार किया था|

Leave a Comment

3 + 7 =