भारतीय मानक ब्यूरो ने एक ज्वेलर्स को हॉलमार्क का दुरुपयोग करते हुये पाया

भारतीय मानक ब्यूरो के पटना शाखा कार्यालय ने छापेमारी कर नालंन्दाम के राजगीर स्थित मॉं मातेश्व री फैन्सीर ज्वे्लर्स (बिपिन ज्वेनलर्स) को हॉलमार्क का दुरुपयोग करते हुये पाया है। स्वरर्ण आभूषण बिक्रेता भारतीय मानक ब्यूसरो से बिना लाइसेंस प्राप्त किए अवैध रूप से हॉलमार्क का दुरुपयोग करते हुये ग्राहक को गुमराह कर रहा था।


भारतीय मानक ब्यूरो वैज्ञानिक ‘ई’ एवं प्रमुख के एस. के. गुप्ता ने बताया कि हॉलमार्क दुरुपयोग की शिकायत मिली थी। इस आधार पर एक विशेष छापेमारी दस्ता का गठन किया गया एवं तलाशी एवं जब्ती अभियान को भेजा गया। छापेमारी के दौरान मॉं मातेश्वकरी फैन्सी ज्वेतलर्स (बिपिन ज्वेरलर्स), द्वारा हॉलमार्क का दुरुपयोग करते हुए पाया गया। छापेमारी के दौरान फर्म से नकली हॉलमार्क लगे आभूषण नमूना के तौर पर जब्त( एवं सील कर दुकानदार के पास सुरक्षा में रखा गया तथा एक आभूषण को जब्तज एवं सील कर गवाही के लिए टीम अपने साथ ले गई।


भारतीय मानक ब्यूारो एक्ट 2016 के नियमों के तहत खंड 15 का उल्लंघन पाए जाने पर तथा इसकी कोर्ट की सत्या्पन होने के बाद जुर्माना कम से कम रु. एक लाख का या अगले उल्लंघनों पर कम से कम 05 लाख जो उत्पाद के वास्तविक मूल्य का 05 गुणा तक या उत्पाघदनकर्ता को एक वर्ष तक की सजा दी जा सकती है।
भारतीय मानक ब्यूकरो उत्पाषद की गुणवत्ताी बनाए रखने में इस तरह का अभियान गुप्तउ सूचना के आधार पर, अपने सौजन्यक से एवं अन्या आधार पर करती रहती है।

Leave a Comment

− 5 = 3