धर्म

धर्म

#श्रुतिविहितस्वधर्मपालनहीसर्वोच्चधर्म है!! 1.#धर्मकिसेकहते_हैं ? भगवान की आज्ञानुसार आचरण को धर्म कहते हैं । जिन कर्मों के करने से उन्नति हो और सच्चा सुख मिले उन कर्मों के आचरण को धर्म कहते हैं । 2. #धर्मकापालनकरनाक्योंआवश्यकहै? धर्म का पालन करने से ही मनुष्य उन्नति कर सकता है और सच्चा सुख पा सकता है, अगले जन्मों में क्रमशः उन्नति करते हुए मुक्ति को प्राप्त करता है। इसलिए धर्म का पालन करना आवश्यक है। 3. #धर्मकापालननहींकरनेसेक्याहानिहै ? धर्म…

Read More

करम पर्व प्रकृति से निकटता बढ़ाने का त्योहार

करम पर्व प्रकृति से निकटता बढ़ाने का त्योहार

शैलेन्द्र महतो, पूर्व सांसद करम या करमा पर्यावरण की दृष्टि से एक महत्वपूर्ण त्योहार है. विकसित सभ्यता ने अपनी उपभोक्तावादी संस्कृति और भौतिक उपलब्धियों के लोभ में एक ओर जंगल काटकर फर्नीचर  बना डाले, वहीं दूसरी ओर सभी प्रकार के प्रदूषणों से न सिर्फ विश्व मानवता को आहत किया, बल्कि पूरी पृथ्वी को ही विनाश के कगार पर ला खड़ा किया है. सभ्यता के विकास काल से ही स्थापित भले ही वह धार्मिक भावना से…

Read More

भगवान अपनी शैया से करवट लेते है पद्मा एकाद्शी को

भगवान अपनी शैया से करवट लेते है पद्मा एकाद्शी को

[8:57 AM, 9/20/2018] Gopal Mishra Buxar: धर्मराज युधिष्ठिर ने कहा- हे केशव! आषाढ़ शुक्ल एकादशी का क्या नाम है? इस व्रत के करने की विधि क्या है और किस देवता का पूजन किया जाता है? श्रीकृष्ण कहने लगे कि हे युधिष्ठिर! जिस कथा को ब्रह्माजी ने नारदजी से कहा था वही मैं तुमसे कहता हूँ। एक समय नारजी ने ब्रह्माजी से यही प्रश्न किया था। तब ब्रह्माजी ने उत्तर दिया कि हे नारद तुमने कलियुगी…

Read More

गणपति बप्पा मोरया

गणपति बप्पा मोरया

पटना महाराष्ट्र मंडल की और से पटना में गणपति बप्पा के पूजा का आयोजन बड़े धूम धाम से हरेक साल की तरह इस साल भी किया जा रहा हैा महाराष्ट्र मंडल के सदस्यों के अनुसार ये प्रतिमा मुम्बई के लाल बाग की प्रतिमा की तरह हीं दिखती है, हर साल ऐसे हीं प्रयास किया जाता हैा सुबह शाम आरती के समय काफी भीड़ होती हैा जो मांगो वह सब मिलता है, बप्पा सब की झोली…

Read More

भगवान् विश्वकर्मा

भगवान् विश्वकर्मा

बलुआ पत्थर से निर्मित एक आर्किटेक्चरल पैनेल में भगवान विश्वकर्मा (१०वीं शताब्दी) ; बीच में गरुड़ पर विराजमान विष्णु हैं, बाएँ ब्रह्मा हैं, तथा दायें तरफ भगवान विश्वकर्मा हैं। इस संग्रहालय में उनका नाम ‘विश्नकुम’ लिखा है। हिन्दू धर्म में विश्वकर्मा को निर्माण एवं सृजन का देवता माना जाता है। मान्यता है कि सोने की लंका का निर्माण उन्होंने ही किया था। वेदों में उल्लेख संपादित करें ऋग्वेद मे विश्वकर्मा सुक्त के नाम से 11…

Read More

विष्णुपद मंदिर में CM नीतीश ने की पूजा-अर्चना, पितृपक्ष मेला समेत अन्य योजनाओं की कर रहे समीक्षा

विष्णुपद मंदिर में CM नीतीश ने की पूजा-अर्चना, पितृपक्ष मेला समेत अन्य योजनाओं की कर रहे समीक्षा

गया : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शुक्रवार को गया पहुंचे. यहां उन्होंने सबसे पहले विष्णुपद मंदिर में पूजा-अर्चना की. उसके बाद मंदिर परिसर और देवघाट का निरीक्षण किया. मुख्यमंत्री ने जगदेव प्रसाद और पूर्व मंत्री उपेंद्र नाथ वर्मा की प्रतिमा का अनावरण किया. साथ ही समाहरणालय के सभागार में पितृपक्ष मेले की तैयारी की समीक्षा की. इस दौरान कृषि मंत्री प्रेम कुमार, शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा समेत कई अधिकारी मौजूद रहे.जानकारी के मुताबिक, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शुक्रवार…

Read More

“कर्मा एकादशी” व्रत

“कर्मा एकादशी” व्रत

कही भ्रान्ति के शिकार न हो जाएँ! 20 सितम्बर 2018 गुरूवार को “कर्मा एकादशी” व्रत है। यह व्रत सभी जगह नहीं मनाया जाता है। 23 सितम्बर 2018 रविवार को “अनंतब्रत कथा” है। भ्रान्ति हो जाने का मुख्य बिंदु_ 24 और 25 सितम्बर दोनों दिन पूर्णिमा है जिसमे 24 को “ब्रताय” पूर्णिमा है और 25 को “स्नानदान” की पूर्णिमा है। जब पूर्णिमा 2 दिन हो तो पहली पूर्णिमा को ब्रताय पूर्णिमा और दूसरी पूर्णिमा को स्नानदान…

Read More

हरतालिका तीज (गौरी तृतीया) व्रत

हरतालिका तीज (गौरी तृतीया) व्रत

हरतालिका तीज का व्रत हिन्दू धर्म में सबसे बड़ा व्रत माना जाता हैं। यह तीज का त्यौहार भाद्रपद मास शुक्ल की तृतीया तिथि को मनाया जाता हैं। खासतौर पर महिलाओं द्वारा यह त्यौहार मनाया जाता हैं। कम उम्र की लड़कियों के लिए भी यह हरतालिका का व्रत श्रेष्ठ समझा गया हैं। विधि-विधान से हरितालिका तीज का व्रत करने से जहाँ कुंवारी कन्याओं को मनचाहे वर की प्राप्ति होती है, वहीं विवाहित महिलाओं को अखंड सौभाग्य…

Read More

हरितालिका तीजव्रत कथा 12 सितम्बर 2018 को है।

हरितालिका तीजव्रत कथा 12 सितम्बर 2018 को है।

हरितालिका तीजव्रत कथा 12 सितम्बर 2018 को है। इस दिन रात्रि 6 बजकर 38 मिनट तक तृतीया है उसके बाद चतुर्थी प्रवेश कर रहा है। लेकिन तीजव्रत कथा रात्रि काल तक होगी। क्योंकि तत्र चतुर्थी संहिता या तू तृतीया फलप्रदा। अर्थात तृतीया में चतुर्थी का समावेश होने से तृतीया व्रत और फलप्रद हो जाती है। अतः निःसंदेह 12 सितम्बर को हरितालिका व्रत कथा सुविधा, शक्ति और पति भक्ति के साथ करें। यह व्रत कुंवारी और…

Read More

पितरों के मोक्ष की कामना

पितरों के मोक्ष की कामना

सभी  मित्रों को सप्रेम हरि स्मरण मित्रों एवं अभिभावक गण कूछ दिन के बाद महालया प्रारंभ होगा जीसेपित्री पक्ष भी कहते है जीसमे हिंदू धर्मावलंबी अपने पितरों के मोक्ष की कामना से गया श्राद्ध करते हैं गयाश्राद्ध में पहला पिण्ड आदि गंगा पुनपुन भागीरथी गंगा से पहले की गंगाहै यहाँ पहला पिण्ड देने का विधान है पुनपुन में पिंड दान का घाट दो जगह है एक पटना के पास पुनपुन घाट स्टेशन और दूसरा औरंगाबाद…

Read More
1 122 123 124 125 126 131