कांग्रेस और राजद अंग्रेजों की नीति और मुगलिया संस्कृति और प्रवृत्ति वाली पार्टी हैं : अरविन्द सिंह

8 अक्टूबर पटना : भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द कुमार सिंह ने कहा है कि कांग्रेस और राजद अंग्रेजों की नीति और मुगलिया संस्कृति और प्रवृत्ति वाली पार्टी हैं।
देश के इतिहास को तोड़ मरोड़ करके मुगलिया संस्कृति को पढ़ाने वाली कांग्रेश, आज राष्ट्रभक्त स्वतंत्रता सेनानी वीर सावरकर जी पर उंगली उठा रही है।  स्वतंत्रता सेनानी वीर सावरकर के बारे में ऐसी सोच रखने वाले कांग्रेस और आरजेडी के लोग हीं हो सकते है।
मुगलिया संस्कृति अपनाने वाले लोग,लाठी तंत्र को मानने वाले लोग सावरकर और आरएसएस को क्या जानें। वीर सावरकर ने देश की आजादी के लिए आधी से ज्यादा जिंदगी जेलों में गुजार दी।

आपदा-विपदा में देश की सेवा करने वाली संस्था आरएसएस को क्या जानेंगे।
ये सम्राट अशोक,चन्द्रगुप्त मौर्य, छत्रपति शिवाजी और महाराणा प्रताप को ग्रेट कहने के बजाय अकबर द ग्रेट पढ़ाने वाले मुगलिया संस्कृति के रखवाले हैं।

श्री अरविन्द सिंह ने कहा है कि कांग्रेस का आदर्श ईस्ट इंडिया कंपनी है, और राजद का आदर्श मुगलिया प्रवृत्ति है।
कांग्रेस इस देश को बांटने वाली पार्टी है, इस देश की संस्कृति, भाईचारा देश की सौहार्द को खंडित करने वाली पार्टी है।
इस देश के जो पुराना इतिहास है उसको छुपा कर के मुगलिया इतिहास को पढ़ाने वाली पार्टी है।
यह अंग्रेजो के आदर्श पर चलने वाली पार्टी है।

इतना ही नहीं कांग्रेस पार्टी स्वतंत्रता सेनानी घोटाला पार्टी है। कुछ जो हमारे आजादी के नायक थे, जो कांग्रेस के लोगों को पसंद नहीं थे, एक राजनैतिक खानदान का वह समर्थक नहीं थे। जिसके कारण उनको इतिहास में लुप्त कर दिया गया है।

 आज केन्द्र सरकार मा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में पुनः एक बार आजादी के इतिहास का और जिनका नाम आज इतिहास में दर्ज नहीं हो सका था स्वतंत्रता सेनानी का उनको केन्द्र सरकार पुनः एक बार इतिहास में अंकित करने का काम कर रही है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पूरे दुनिया में कहीं भी प्राकृतिक आपदा हो, मानवता पीड़ित हो उसके सेवा में स्वयंसेवक खड़े मिलेंगे, लगे मिलेंगे, गलियों में, गांव में, सुदूरवर्ती क्षेत्रों में जो राष्ट्रवादी यह संगठन पूरे दुनिया में अपना सेवा के लिए जानी जाती है।
उनको यह मुगलिया प्रवृत्ति और अंग्रेजों वाली संस्कृति वाले लोग क्या समझेंगे।

वैसे यह राजद का ट्वीट स्वतंत्रा सेनानी वीर सावरकर और राष्ट्रवादी संस्था राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर श्री तेज प्रताप जी से ध्यान भटकाने के लिए श्री तेजस्वी  यादव का शातिराना चाल है। कि हम किसी बड़े राष्ट्र नायक पर हम ट्वीट करेंगे तो राष्ट्रवादी पार्टियों का ध्यान उधर चला जाएगा और  नेता प्रतिपक्ष को श्री तेज प्रताप यादव से मुक्ति मिलेगी।

Leave a Comment

51 − 45 =