सीएम नीतीश कुमार पर कांग्रेस प्रवक्ता ने बोला हमला-‘खत्म हुई नीतीश की सुशासन वाली इमेज’

पटनाः सीएम नीतीश कुमार पर बिहार कांग्रेस के प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि कभी बिहार में सुशासन बाबू के रूप में जाने जाने वाले माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सुशासन वाली इमेज पूरी तरह से समाप्त हो गई है।साथ ही उनकी अंतरात्मा भी पूरी तरह मर चुकी है, जिसके अब जागने की भी कोई उम्मीद नहीं दिखती।कारण यह है कि नीतीश कुमार के सरकार में बड़े पदों में बैठे राजनेता एवं अधिकारी खुद भ्रष्टाचार एवं दुराचारियों के संरक्षण में संलिप्त है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ऐसे ही भ्रष्टाचारियों एवं अपराधियों को संरक्षण देने वाले तत्वों से घिरे हुए हैं।वस्तुतः अब स्थिति यह है कि ऐसे ही तत्व उनके सरकार को चला रहे हैं।उपरोक्त बातें बिहार प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता राजेश राठौर नेसरकार पर आरोप लगाते हुए  कहा ।राजेश राठौर ने कहा कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड में सरकार की कार्यशैली पूर्णता विवादों के घेरे में है। जिसके चलते पूरे देश में नीतीश सरकार को जागरूक जनता के द्वारा कटघरे में खड़ा कर दिया गया। सिर्फ मुजफ्फरपुर ही नहीं वरन पूरे सूबे में कई ऐसी घटनाएं घटी हैं।जिसके चलते नीतीश सरकार कि सुशासन वाली छवि खत्म हो गई है।अब चाहे गया का चर्चित बलात्कार कांड हो या फिर छपरा के दिव्यांग बलात्कार कांड हो। ऐसे कई शर्मनाक कृत्य इस सरकार में नित्य घटित हो रहे हैं।सरकार का प्रशासनिक तंत्र ऐसी घटनाओं को रोकने में पूर्णतः नाकाम साबित हुआ है। आखिर क्या कारण है कि प्रशासन प्रदेश में रोजमर्रे के अपराध को भी रोक पाने में असफल है?संगठित अपराध के समक्ष प्रशासन ने समझौता जैसे नीति अपना ली है।राज्य सरकार अपने ही विभागों में व्याप्त अनियमितता को छुपाने का काम करती है।प्रदेश की स्थिति ऐसी है कि खुलासा होने के बावजूद भी सरकार कई मामलों में कार्रवाई करने से बचना चाहती हैं राठौर ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कभी सुशासन बाबू के रूप में जाने जाते थे।मगर आज भ्रष्टाचारियों एवं दुराचारियों के बीच में घिरकर उनकी सुशासन वाली छवि कुशासन में तब्दील हो गई है।एक बार फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को आत्ममंथन करना चाहिए कि आज प्रदेश की स्थिति उनके कार्यकाल में इतनी भयावह एवं अराजक क्यों हो गई है।

Leave a Comment

8 + 1 =