एनटीपीसी कहलगाँव द्वारा बालिका सशक्तिकरण अभियान कार्यशाला 2022 का उदघाटन

भारत की सबसे बड़ी विद्युत उत्पादन कंपनी एनटीपीसी बालिकाओं के उत्थान में अग्रणी रही है और हमेशा से उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए सहायता प्रदान करती रही है। इसी दिशा में एक कदम आगे बढ़ाते हुए एनटीपीसी कहलगांव ने 23 मई 2022 को आस-पास के क्षेत्रों की बालिकाओं को सशक्त बनाने के लिए बालिका सशक्तिकरण अभियान प्रारंम्भ किया है ।

चार सप्ताह तक चलने वाली इस आवासीय कार्यशाला में परियोजना प्रभावित विभिन्न प्राथमिक विद्यालय के 10-12 आयुवर्ग के 120 बालिकाएं हिस्सा ले रही हैं ।

इस अभियान का मुख्य उदेश्य एनटीपीसी परियोजनाओं के आस-पास के रहने वाली सुविधा विहिन बालिकाओं को हर संभव तरीके से शिक्षित और सशक्त बनाना है ।

एनटीपीसी कहलगाँव के आवासीय परिसर के अंग भवन में आयोजित कार्यक्रम में एनटीपीसी के दिल्ली स्थित मुख्यालय के राकेश प्रसाद, कार्यकारी निदेशक (सीएसआर/आर एंड आर) एवं शुभा प्रसाद ने अरिंदम सिन्हा, मुख्य महाप्रबंधक (कहलगांव) एवं रूपाली सिन्हा , अध्यक्षा, सृष्टि समाज के साथ – साथ सभी विभागाध्यक्ष, यूनियन एवं एसोशियेशन, एनटीपीसी कर्मी एवं बड़ी संख्या में बालिका सशक्तिकरण अभियान में चयनित बालिकाओं तथा उनके अभिभावकों की उपस्थिति में दीप प्रज्ज्वलित कर बालिका सशक्तिकरण अभियान 2022 का शुभारंभ किया ।

बालिका सशक्तिकरण अभियान 28 दिन का एक आवासीय प्रशिक्षण कार्यशाला है जिसमें बालिकाओं के व्यक्तित्व एवं प्रतिभा को निखारने हेतु विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। इस कार्यशाला में योग, ड्राईंग-पेन्टिग, नृत्य एवं संगीत, खेलकूद, आत्मरक्षा के लिए ताइक्वाडो, एवं अकादमिक अध्यापन गणित, विज्ञान, अंग्रेजी, सामाजिक विज्ञान एवं कम्प्यूटर शिक्षा का प्रशिक्षण कुशल शिक्षिकाओं द्वारा दिया जाएगा ।

इस अवसर पर अपने सम्बोधन में राकेश प्रसाद, कार्यकारी निदेशक (सीएसआर एवं आर एंड आर) ने कहा कि एनटीपीसी परियोजना के आसपास गांव की बालिकाओं के उत्थान के प्रयासों के तहत कंपनी ने इस साल लगभग 35 प्रोजेक्ट लोकेशन्स पर इस पहल को बढ़ाने की योजना बनाई है। इसी कड़ी में एनटीपीसी ने इस अभियान के तहत देश भर की बालिकाओं को सशक्त बनाने के साथ ही उन्हें बुनियादी शिक्षा, स्वास्थ्य एवं आत्मरक्षा हेतु जागरुक कर रहा है। इस पहल के माध्यम से एनटीपीसी ने खासतौर पर ग्रामीण क्षेत्रों में फैली रूढ़ीवादी अवधारणाओं को दूर करने और बालिकाओं को समाज की मुख्य धारा में जोड़ने का कार्य करेगी ।


श्री प्रसाद ने कहा की बालिका सशक्तीकरण अभियान सुनिश्चित करता है कि इन बच्चों का समग्र विकास हो, उन्हें गुणवत्तापूर्ण संचार एवं सामाजिक कौशल के पर्याप्त अवसर मिलें। यह मिशन विशेष रूप से बालिकाओं में रचनात्मकता, सामाजिक एवं भावनात्मक विकास, मनोवैज्ञानिक विकास को बढ़ावा देता है।

मौक़े पर अरिंदम सिन्हा, मुख्य महाप्रबंधक (कहलगांव) ने अपने सम्बोधन में कहा कि बालिका सशक्तिकरण अभियान 23 मई से शुरू होकर 19 जून 2022 तक परियोजना के आवासीय परिसर में स्थित ईटी हॉस्टल में चलेगा। उन्होनें ने कहा कि यह कार्यशाला का आयोजन एनटीपीसी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक गुरदीप सिंह का एक स्वप्न था कि हमारी कंपनी बालिका सशक्तिकरण मिशन की दिशा में ग्रामीण बालिकाओं को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने, उनके सपनों को एक नया आयाम देने, उनके अंतर्मन में आशा, आत्मविश्वास, कुछ कर गुजरने की ललक जगाने के लिए एक अहम व रचनात्मक भूमिका निभाए और भारत सरकार के “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” अभियान में यथोचित योगदान दे सकें. इसी के चलते इस अभियान की शुरूआत की गई है।

श्री अरिंदम सिन्हा ने कहा कि बालिकाओं के सुखद और सुरक्षित रहने के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं। पूरा होस्टल सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में है और सुरक्षा के लिए महिला सुरक्षा गार्ड का प्रबंध किया गया है । आवासीय परिसर में हि कंट्रोल रूम बनाया गया है जिसमे 24 घंटे एनटीपीसी अधिकारी अपनी सेवा दे रहे है जो बालिकाओं के स्वास्थ्य व अन्य समस्याओं, के निराकरण हेतु त्वरित गति से कार्य करता है । इस आयोजन को सफल बनाने हेतु समस्त एनटीपीसी प्रबंधन प्रयासरत् है ।

एनटीपीसी प्रबंधन द्वारा आयोजित क्रार्यक्रम इन बालिकाओं के व्यक्त्तिव विकास की दिशा में महत्वपुर्ण साबित होगा जो एक नव भारत निर्माण में सहायक होगा ।

इस अवसर पर सृष्टि समाज की सदस्यों , डीएवी पब्लिक स्कूल एवं केन्द्रीय विद्यालय के छात्राएं द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” थीम पर आधारित मनमोहक रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसे प्रेक्षा गृह में उपस्थित दर्शकों द्वारा काफी सराहा गया ।

श्री अरिंदम सिन्हा, मुख्य महाप्रबंधक (कहलगांव) ने कहा कि प्रतिभागी बालिकाओं के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए हम सभी प्रयासरत हैं, ताकि उनके जीवन में खुशियां भरी जा सके। इसके लिए कहलगाँव प्रबंधन के सभी विभागाध्यक्ष, वरिष्ठ अधिकारीगण, कर्मचारीगण, सृष्टि समाज की सभी सदस्याएं लोग दिन-रात मेहनत कर रहे हैं और हमे पूर्ण विश्वास है कि यहाँ से ये बच्चियां अपने हौसलों की उड़ान में जरूर गति प्राप्त करेंगी।

इस दौरान प्रतिभागी बच्चियों सहित उनके अभिभावक गण के साथ-साथ परियोजना के सभी वरिष्ठ अधिकारीगण, कर्मचारीगण, सृष्टि समाज महिला संघ के पदाधिकारीगन बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।

Leave a Comment

25 − 16 =