बिहार विधानसभा में फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित

बिहार विधानसभा में सत्तारूढ़ एनडीए गठबंधन ने फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित |बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधानसभा में अपनी सरकार के लिए विश्वास मत पेश किया. इसमें एनडीए के पक्ष में 130 वोट पड़े, वहीं, विपक्ष ने वॉकआउट कर दिया| बहुमत का आंकड़ा 122 था. यही नहीं, स्पीकर अवध बिहारी चौधरी को पद से हटाने का अविश्वास प्रस्ताव भी पारित हो गया| अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 125 वोट पड़े. वहीं, विपक्ष में 112 वोट पड़े| आरजेडी की तरफ से क्रॉस वोटिंग की गई. वहीं, बीजेपी और जेडीयू के कुछ विधायक वोटिंग में शामिल नहीं हुए|

नीतीश सरकार की बड़ी जीत, स्पीकर को हटाने के पक्ष में 125

फ्लोर टेस्ट पर चर्चा के दौरान बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और राजद नेता तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा| उन्होंने कहा, “सबसे पहले हम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को धन्यवाद देना चाहते हैं कि लगातार 9 बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेकर इतिहास रच दिया| 9 बार तो शपथ ली ही लेकिन एक ही टर्म में उन्होंने तीन-तीन बार शपथ ली है| हमने ऐसा अद्भुत नजारा पहले कभी नहीं देखा है| मैंने नीतीश कुमार को हमेशा ‘दशरथ’ माना था, पता नहीं कि किन कारणों से उन्हें ‘महागठबंधन’ छोड़ना पड़ा|’

घबराइये नहीं, हमारे पास बहुमत है-नीतीश

विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ अवध बिहारी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को ध्वनि मत से हां और ना में आसान पर बैठे महेश्वर हजारी ने स्वीकृत करार दिया| विपक्ष ने इसका जोरदार विरोध किया तब गिनती की प्रक्रिया शुरू हुई| इस दौरान विधानसभा के सभी गेट्स को बंद किया गया| विधान परिषद के सदस्य सम्राट चौधरी विपक्ष के आपत्ति के बाद बाहर चले गए और तब गिनती की प्रक्रिया शुरू हुई| इससे पहले विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही राजद को झटका लगा| पार्टी के कम से कम तीन विधायक सत्ता पक्ष की ओर बैठे।

स्पीकर के किलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान से पहले आरजेडी विधायक- चेतन आनंद, नीलम देवी और प्रह्लाद यादव के एनडीए के सदस्यों के बीच बैठ गए थे|अपनी पार्टी के तीन विधायकों को जेडीयू के पक्ष पर बैठने पर बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा, ‘मतदान खत्म होने तक विधायक अपनी-अपनी सीटों पर बैठे रहें, नहीं तो वोटिंग अवैध मानी जाएगी|’ अध्यक्ष की कुर्सी पर आसीन विधानसभा उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी ने व्यवस्था के प्रश्न पर कोई फैसला नहीं दिया।

Leave a Comment

84 − 77 =