ओटीटी प्लेटफार्म ‘मस्तानी’ पर रिलीज के साथ ही धूम मचा रही है अवार्ड विनिंग फ़िल्म ‘जिहाद’

राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय फ़िल्म समारोह में अपना जलवा दिखाने वाली हैदर काजमी की अवार्ड विनिंग फ़िल्म ‘जिहाद’ की धूम ओटीटी प्लेटफार्म मस्तानी पर भी खूब देखने को मिल रहा है। मस्तानी पर ‘जिहाद’ कल ही यानी ईद के मौके पर रिलीज हुआ है और इस फ़िल्म ने अब तक रिलीज सभी फिल्मों व वेब सीरीज का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। वैसे भी दर्शकों को फ़िल्म ‘जिहाद’ के रिलीज का इंतजार तो था ही, यही वजह है कि जब यह मस्तानी पर रिलीज हुई तो लोगों ने इसे हाथोंहाथ लिया और लोगों ने खूब देखा है।

गौरतलब है कि इस फ़िल्म को अब तक 35 राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय फ़िल्म समारोह में अवार्ड मिल चुकी है। कांस जैसे फ़िल्म समारोह में बेहतरीन फ़िल्म की सराहना भी की गई। फ़िल्म को राकेश परमार ने निर्देशित किया है। ‘जिहाद’ मस्तानी पर 6 भाषाओं में रिलीज हुई है। हिंदी, इंग्लिश, तेलगु, तमिल, कनाडा औऱ भोजपुरी। इस बारे में फ़िल्मकार हैदर काजमी ने कहा कि ‘जिहाद’ देश के दर्शकों के लिए वास्तविक पृष्ठभूमि में बनी शानदार कथानक है। एक तरह से यह ईद पर दर्शकों को तोहफा है। इस फ़िल्म को देखने के बाद लोगों के मन से जिहाद शब्द का भ्रम दूर हो जाएगा। इसलिए मैं अपील करूँगा कि इसे आप तो देखे ही साथ ही अपने दोस्तों को भी फ़िल्म देखने के लिए प्रेरित करे।

उन्‍होंने कहा कि आज जिहाद शब्द को लेकर लोगों के बीच भ्रम की स्थिति है, उसी को साफ करने के लिए ‘जिहाद’ नाम से हमने फिल्‍म बनाई है। वास्‍तव में जिहाद को आतंकवाद से जोड़ कर देखा जाता है। लेकिन सभी जिहाद के असल मतलब से अंजान है, जो हम इस फिल्‍म के जरिये लोगों के सामने लेकर आ रहे हैं। जिहाद का मतलब होता है अपने अंदर के क्रोध और शैतान को मारना, ना कि इसके नाम पर बंदूक उठाकर बेकसूर लोगों को मारना।

फिल्म कश्मीर के उन लोकेशंस पर शूट हुई है जहाँ आम आदमी के लिए जाना नामुमकिन है। कुपवाड़ा, चरारेशरीफ, दूध गंगा, यूसमरग जैसे सम्वेदनशील लोकेशंस पर जिहाद की शूटिंग हुई हैI इस फिल्म में कश्मीर के लोकल कलाकारों को वर्कशॉप देकर उनके साथ इस फिल्म को शूट किया गया I इस वजह से ये फिल्म और भी वास्तविक और आकर्षक लगती है I आपको बता दें कि मस्तानी प्लेटफॉर्म सार्थक और प्रगतिशील सिनेमा के लिए एक बेहतर मंच है। यहां लोग पूरे परिवार के साथ बैठकर फिल्में , वेब सीरीज व अन्य मनोरंजक कार्यक्रम देख सकते हैं।

Leave a Comment

+ 11 = 21