जमालपुर के रेल इकाइयों को बर्बाद करने पर तुले हैं अकर्मण्य अधिकारी – संघर्ष मोर्चा

जमालपुर;जमालपुर कारखाना को निर्माण कारखाना का दर्जा डीजल शेड को इलेक्ट्रिक शेड में तब्दील रेलवे विश्वविद्यालय की स्थापना सहित रेल से जुड़े कई अन्य अहम सवालों को लेकर बरसों से संघर्षरत विभिन्न राजनीतिक व सामाजिक संगठनों की संयुक्त आवाज जमालपुर रेल कारखाना निर्माण कारखाना संघर्ष मोर्चा की एक अति आवश्यक बैठक मारवाड़ी धर्मशाला जमालपुर में सीपीआई के जिला सचिव कॉमरेड दिलीप कुमार की अध्यक्षता में आयोजित की गई जिसमें राजद सीपीआई एनसीपी रालोसपा लोजपा जिले के समाजवादी नेता सहित विभिन्न सामाजिक व राजनीतिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया बैठक का संचालन मोर्चा के संयोजक सपा के पूर्व जिला अध्यक्ष पप्पू यादव कर रहे थे

बैठक की अध्यक्षता करते हुए कामरेड दिलीप कुमार ने कहा कि केंद्र सरकार की पूंजीवादी नीतियों के कारण आज रेलवे का तेजी से विघटन हो रहा है मजदूर दम तोड़ रहे हैं और सरकार देश की संपत्ति को निजी घरानों के हाथों निजी स्वार्थ के लिए गिरवी रखने को तैयार है जिसका असर जमालपुर रेल कारखाना संहिता अन्य इकाइयों पर पड़ रहा है ऐसे जनविरोधी सरकार का विरोध लाजमी है और आवाम को इसके विरुद्ध सड़क पर उतरना होगा ।

वही संचालन करते हुए मोर्चा के संयोजक सपा के पूर्व जिला अध्यक्ष पप्पू यादव ने कहा कि देश में स्थापित प्रथम रेल कारखाना और यहां के रेल क्षेत्र को एक साजिश के तहत बर्बाद करने का षड्यंत्र किया जा रहा है और यहां के राजनेता बस वोट की राजनीति करने में लगे है ऐसी परिस्थितियों में संघर्ष मोर्चा सदैव व्यापक लड़ाई का प्रयत्न किया लेकिन कुछ चाटुकारों व दलाल नेताओं ने संघर्ष मोर्चा के आंदोलन को दिग्भ्रमित करने का प्रयास किया बावजूद मोर्चा खामोश नहीं बैठी हम अपने आंदोलन को और संगठित करते हुए 14 फरवरी को कारखाना और डीजल शेड के विकास के सवाल पर रेल चक्का जाम के लिए रेलवे ट्रैक पर उतर इस सरकार को करारा जवाब देंने के लिए तैयार है।

वही बैठक को संबोधित करते हुए राजद के जिला महासचिव गोरेलाल सिंह रालोसपा के प्रदेश सचिव रवि कांत झा लोजपा के निवर्तमान जिला महासचिव कृष्णानंद राउत ने स्थानीय रेल अधिकारियों के रवैया पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा की रेल अधिकारी इस कारखाने को दीमक की तरह चाट जमालपुर रेल कारखाना को अपना ऐशगाह बना लिया चाहे यहां के मुख्य कारखाना प्रबंधक हो मुख्य कार्मिक पदाधिकारी हो यहां के छोटे-छोटे अधिकारी यहां के कर्मचारी कारखाना का कम अधिकारियों की ज्यादा तिमारदारी करते हैं जिसके कारण आज क्षेत्र बदनाम हो रहा है ऐसे लोगों को करारा जवाब देने के लिए मोर्चा तैयार है।

बैठक मे सर्वसम्मति से रेल कारखाना और डिजल शेड के सवाल पर उग्र आन्दोलन करने का निर्णय लिया गया।

बैठक मे राजद नेता मुखतार अहमद, समाजवादी रामनाथ राय मिथलेश यादव मो आजम रंजीत यादव अमरशक्ति मनोज क्रांति डा० सुधीर गुप्ता, कुमार प्रभाकर, सत्यजीत कुमार पासवान, आशिष कुमार दिनेश साहु,सुमित कुमार रूपेश कुमार छोटू सहित विभिन्न संगठन के लोग उपस्थित थे।

Report by;

Vivek kr.yadav

Leave a Comment

53 − 50 =