7 राज्यों में 12 सौ से अधिक पक्षियों की मौत

हरियाणा के पंचकूला जिले की दो मुर्गीपालन कंपनियों से लिए गए नमूनों में आईसीएआर-एनआईएचएसएडी द्वारा एवियन फ्लू (एआई) की पुष्टि के बाद मध्यप्रदेश के शिवपुरी, राजगढ़, शाजापुर, आगर, विदिशा, उत्तर प्रदेश के जूलॉजिकल पार्क, कानपुर और राजस्थान के प्रतापगढ़ व दौसा जिलों में प्रवासी पक्षियों में एवियन फ्लू के मामले दर्ज किए गए हैं।

 देश के सात राज्यों- केरल, राजस्थान, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, गुजरात और उत्तर प्रदेश में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। इसके अलावा, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र और दिल्ली को पक्षियों की हुई अकाल मृत्यु की जांच रिपोर्ट का इंतजार है। केंद्रीय मत्स्यपालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय ने शनिवार को यह जानकारी दी।

केंद्र सरकार ने केरल , राजस्थान , मध्य प्रदेश , हिमाचल प्रदेश , हरियाणाऔर गुजरात में बर्ड फ्लू के पहुंचने की पुष्टि की थी। केंद्र ने अब उत्तर प्रदेश समेत सात राज्यों में तत्काल प्रभाव से कार्ययोजना के अनुसार एवियन इन्फ्लूएंजा पर रोकथाम के निर्देश जारी कर दिए हैं।आईसीएआर-निषाद ने नमूनों की जांच के बाद हरियाणा के पंचकुला की दो पॉल्ट्री फर्मों में एविन इंफ्लूएंजा संक्रमण होने की पुष्टि की है। हरियाणा के कृषि मंत्री जे पी दलाल ने शुक्रवार को कहा कि पंचकूला के कुछ पॉल्ट्री नमूनों के एवियन फ्लू से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है

Report By : Saloni Mishra

Leave a Comment

88 − 87 =