युवराज सुधीर सिंह ने ईसुआपुर प्रखंड के आटा नगर में जनसंवाद कार्यक्रम का आयोजन किया

तरैया विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी युवराज सुधीर सिंह ने आज ईसुआपुर प्रखंड के आटा नगर में जनसंवाद कार्यक्रम का आयोजन किया जहां पर भारी तादाद में लोगों की भीड़ जुटी उन्होंने कहा कि वे जनता के दबाव में निर्दलीय प्रत्याशी बने हैं ट्रैक्टर पर सवार होकर आशीर्वाद मांगने तरैया के गांव-गांव में जा रहे हैं कम समय है क्षेत्र बड़ा है बाढ़ व करोना का कहर है ऐसे में संभव है कि एक-एक मतदाता तक नहीं पहुंच पाए पर उनकी कोशिश है कि हर वह दरवाजे पर जाएं और शीश नवाए उन्होंने कहा कि विरोधी तरह-तरह के मिथ्या प्रचार कर रहे हैं लोगों को प्रलोभन दे रहे हैं समर्थकों को डरा रहे हैं पर वे डरने वाले नहीं और ना ही क्षेत्र छोड़कर भागने वाले हैं उनके साथ तरैया के जनता की ताकत है।ट्रैक्टर चलाता हुआ किसान चुनाव चिन्ह मिलने पर तरैया विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी युवराज सुधीर सिंह ने कहा यह माता रानी की कृपा है वही चुनाव चिन्ह चाहते थे बाढ़ के दौरान वे खुद ट्रैक्टर चलाकर बाढ़ पिड़ितो के बीच जाते थे ट्रेक्टर ही बाढ़ के समय में तरैया के लोगों का साथी था अन्य सभी वाहन बेकार हो गए थे उसी तरह इस चुनाव में ट्रैक्टर ही तरैया के विकास को गति दे पाएगा उन्होंने तरैया के सभी मतदाताओं से अपील की कि वे अपने वादे पर पूरी तरह कायम रहेंगे जिस तरह से अभी तक लोग उनको प्रेम स्नेह देते आए हैं उसी तरह 3 तारीख को ट्रैक्टर चलाते हुए किसान चुनाव चिन्ह के सामने बटन दबाकर वोट देना है एक-एक वोट उनके लिए जरूरी है पत्रकारों से बातचीत करते हुए सुधीर सिंह ने कहा कि लोकतंत्र में आम आदमी ही सबसे ज्यादा ताकतवर होता है कई लोग कई तरह के प्रलोभन देंगे कई बड़े लोग उड़न खटोले से आएंगे पर तरैया के लोग जानते हैं कि बाढ़ में जब तरैया डूबा हुआ था तो यही ट्रैक्टर चलाकर मैं उनके घरों तक पहुंचता था उनके आंसू पोछता था मेरा यहां अभियान आजीवन चलता रहेगा। युवराज सुधीर सिंह ने कहा कि जब बड़ी से बड़ी गाड़ियां खराब हो जाती हैं या गड्ढे में फस जाते हैं तब ट्रैक्टर ही उन्हें खींच कर बाहर निकलता है आज तरैया भी समस्याओं के गड्ढे में फस चुका है उनका विकास रुपी चुनाव चिन्ह ट्रेक्टर ही तरैया को समस्याओं के गड्ढों से निकालकर विकास के रास्ते पर ले कर आएगा।उन्होंने अपने समर्थकों से अपील की कि गांव-गांव में जाना है लोगों को जगाना है समय कम है बताना है कि उन्हें ट्रैक्टर चलाते हुए किसान छाप पर बटन दबाकर इस बार तरैया के दुख दर्द को दूर भगाना है

report by; anup narayan

Leave a Comment

98 − = 97