भारतीय रिजर्व बैंक (RBI)

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के अर्थशास्त्रियों के
मुताबिक, भारत की अर्थव्यवस्था में लगातार दूसरी
तिमाही में धीमापन नजर आ रहा है। यह स्थिति देश को
अभूतपूर्व मंदी की ओर ले जा रही है। RBI की मौद्रिक
नीति (मॉनिटरी पॉलिसी) के इंचार्ज और डिप्टी गवर्नर
माइकल पात्रा की टीम ने इस स्थिति पर रिपोर्ट तैयार
की है।
सितंबर तिमाही में 8.6% गिरावट की आशंका
RBI ने पहली बार प्रकाशित ‘नाउकास्ट’ में दिखाया
कि सितंबर में खत्म हुई तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद
(GDP) 8.6% गिर गया। यह हाई फ्रीक्वेंसी डेटा
पर आधारित अनुमान है। इससे पहले, अप्रैल से जून
की तिमाही में अर्थव्यवस्था में 23.9% की गिरावट
आई थी। अर्थशास्त्रियों ने लिखा है कि भारत ने अपने
इतिहास में पहली बार 2020-21 की पहली छमाही में तकनीकी में प्रवेस किया

report by; Dilip kr. yadav

Leave a Comment

8 + 1 =