पारिवारिक साजिश के शिकार हुए तेज प्रताप यादव : अरविन्द सिंह

पटना : भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द कुमार सिंह ने कहा है कि पारिवारिक साजिश के शिकार हुए है श्री तेज प्रताप यादव जी।

  श्री शिवानंद तिवारी जी का राजद में क्या हैसियत है, यह पूरे बिहार जानता है।
वें खुद ही पद के लिए बेचैनी में कुछ भी करते और बोलते रहते हैं, वें खुद राजद में आतिथि कलाकार है।
और वें सजायाफ्ता राजद सुप्रीमो श्री लालू प्रसाद जी के बड़े पुत्र विधायक श्री तेज प्रताप जी को कहते हैं, कि श्री तेज प्रताप यादव राजद में नहीं है, और राजद से निकल चुके हैं। श्री तेज प्रताप यादव जी को राजद में श्री शिवानंद तिवारी जी ने उन्हें उनका औकात और हैसियत बता रहें है।

 तो इसी से श्री तेज प्रताप जी आप सोचिए कि इसके पहले से ही जगदानंद सिंह जी ने आपको कहे थे, कि कौन है तेज प्रताप, मैं तेज प्रताप को नहीं जानता हूं।

आपको समझ लेना चाहिए कि आप पार्टी में पद और संपत्ति के लिए  पारिवारिक साजिश के शिकार हुए हैं।

और अगर आप पारिवारिक साजिश के शिकार नहीं हुए हैं तो आदरणीय राजद सुप्रीमो श्री लालू प्रसाद यादव जी का बयान आना चाहिए था। इस पर आपके नेता प्रतिपक्ष श्री तेजस्वी यादव जी जो आपके छोटे भाई  का बयान आना चाहिए था।

श्री अरविन्द ने कहा है कि श्री तेज प्रताप यादव जी आपके मां पिताजी राजद सुप्रीमो पूर्व मुख्यमंत्री श्री लालू प्रसाद यादव जी और श्रीमती राबड़ी देवी जी को भी आप से अलग कर दिया गया है।
यहां तक की आपके पूरे परिवार को साजिश के तहत तोड़ दिया गया है।

 और यह कौन कर सकता है..? आप सब जानतें है। आप छोटे भाई के साजिश के शिकार हुए हैं, आप जिनको अर्जुन समझ रहे थे, वें आपके लिए दुर्योधन निकले। आप अपने आप को दुर्योधन से बचाइए। अब आपको याचना से कुछ मिलने वाला और होने जाने वाला नहीं है, महाभारत में आप पढ़ चुके हैं, और याचना नहीं अब रण कीजिए।

Leave a Comment

88 − 78 =