मरीज की मौत पर अस्पताल परिसर में हंगामा,परिजन ने लगाया अस्पताल प्रबंधक पर आरोप

पटना के पालीगंज अनुमंडल अस्पताल में महिला की शनिवार शाम तड़के मौत हो गई।मृतका के परिजन ने अस्पताल प्रशासन पर आरोप लगाया कि इन लोगों की लापरवाही से मौत हुई है। वही परिजन ने अस्पताल परिजन में हंगामा करने लगे। जिसके बाद अस्पताल प्रशासन ने समझाकर-बुझाकर शांत कराया गया।

पेट दर्द का इलाज कराने पालीगंज अनुमंडल अस्पताल पहुंची महिला की शनिवार तड़के मौत हो गई

मौत की खबर सुनते ही मृतका के परिजन आक्रोश में आ गए।आक्रोशित परिजन डॉक्टर और अस्पतालकर्मियों पर लापरवाही का आरोप लगाया है।अस्पताल में परिसर में हंगामा करने लगे।महिला के पेट में अचानक दर्द जानकारी के मुताबिक,देर शाम महबलीपुर की 52 वर्षीय शांति देवी पेट में अचानक दर्द हो गया।जिसके बाद इलाज के लिए पालीगंज अनुमंडल अस्पताल पहुंची। अस्पतालकर्मियों ने महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया।डॉक्टरों ने महिला का इलाज करना शुरु कर दिया। पूरी रात महिला की स्थिति सामान्य रही।पालीगंज अनुमंडल अस्पताल में हंगामा।बीमार महिला ने दम तोड़ा।शनिवार की सुबह भी ठीक ठाक थी।इस बीच रुटीन के अनुसार नर्स उसे दवाईया और इंजेक्शन दिय गया था।कुछ ही देर बाद से महिला की तबियत बिगड़नी शुरु हो गई।तब तक डॉक्टर और नर्स की ड्यूटी बदल चुकी थी।ड्यूटी पर आये दूसरे डॉक्टर जब तक बीमार महिला को समझ पाते तब तक महिला ने दम तोड़ चुकी थी।

महिला की मौत की खबर उसके परिजन तक पहुंची। जिसके बाद मृतका के परिजन ने आरोप लगाया कि डॉक्टरों और कर्मियों की लापरवाही शांति देवी की मौत का कारण है।उधर, हंगामा बढ़ता देख अस्पताल कर्मी परिसर से भाग निकले। बाद में स्थानिय जन प्रतिनिधियों के समझाने-बुझाने के बाद हंगामा शांत हुआ।वही स्वास्थ्य प्रबंधक पराजित तिवारी के पहल पर शव को उसकी परिजनों को सौप दिया गया।इस से पहले अस्पताल के डॉक्टरों ने महिला की हालत खराब को देखते हुए पीमसीएच को रेफर किया गया था।लेकिन अस्पताल वाले नहीं ले गए।

Report By: Ratnesh kr.

Leave a Comment

2 + 7 =