नीतीश की दिमागी हालत ठीक नहीं-जीतन राम मांझी

जहानाबाद: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ मोर्चा खोल चुके पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने केंद्र सरकार से बड़ी मांग कर दी है। जीतन राम मांझी ने कहा है कि बिहार के मुख्यमंत्री की दिमागी हालत ठीक नहीं है, इसलिए राज्य की जनता को बचाने के लिए बिहार में जल्द से जल्द राष्ट्रपति शासन लागू हो।

शांति पूर्वक दारोगा भर्ती परीक्षा संपन्न, अरवल और हाजीपुर में नकल करते पकड़े गये 3 अभ्यर्थी

दरअसल, हम संरक्षक जीतन राम मांझी रविवार को जहानाबाद में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहुंचे थे। उनके साथ केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय भी मौजूद थे। इस दौरान मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने केंद्र से बड़ी मांग कर दी। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने तो एक तरह से अपनी मानसिक स्थिति को खो दिया है। मुख्यमंत्री क्या बोलते हैं उन्हें पता नहीं होता है।


मांझी ने कहा कि हाल के कई पब्लिक मीटिंग में उन्हें बोलने नहीं दिया गया। उनके बोलने पर पाबंदी लगा दी गई है, इसलिए बोलने से मना कर दिया गया है कि क्या बोल देंगे उसका कोई हिसाब नहीं है। सब लोग जान गए हैं कि उनका दिमाग अब ठीक नहीं है, इसलिए अगर बिहार की 13 करोड़ जनता को बचाना है तो बिहार में राष्ट्रपति शासन लागू कर नीतीश कुमार को हटाया जाए।

उन्होंने कहा कि लालू और नीतीश कुमार झूठे लोग हैं और हमेशा झूठी बात करते हैं। ये लोग सिर्फ बात करते हैं, काम कुछ नहीं करते। भ्रष्टाचार, परिवारवाद और जाति की बात कहकर अपने बच्चों को आगे बढ़ाने की कोशिश में लगे रहते हैं। दोनों का समाज और बिहार से कोई मतलब नहीं है। बता दें कि पूर्व सीएम मांझी लौह पुरुष सरदार बल्लभ भाई पटेल की पुण्यतिथि पर वृद्धा आश्रम का शिलान्यास करने जहानाबाद पहुंचे थे।

Leave a Comment

7 + 1 =