मोसाद संगठन के पोस्टर से दहशत

सीवान: जिले के गांव रघुनाथपुर प्रखंड के गंभीरार पंचायत के कौसड गांव में शुक्रवार को एक पोस्टर दिखा जिस पर गांव के ही करीब आधा दर्जन लोगों को जान से मारने की धमकी दी गई थी| मोसाद संगठन द्वारा चिपकाए गए पोस्टर पर गरीबों पर अत्याचार करने वाले गांव के 6 लोगों को यमलोक भेजने की धमकी दी गई है |

पोस्टर पर जिन 6 लोगों का नाम लिखा गया है उन सभी को को 1 माह का समय दिया गया है जिसके अंदर सुधरने की नसीहत दी गयी है| लेकिन चिंता का विषय यह है कि पोस्टर में अंकित स्वर्गीय श्याम बहादुर सिंह के 55 वर्षीय पुत्र विजय सिंह पर बीती रात जानलेवा हमला कर उन्हें घायल कर दिया गया है. हालांकि संयोग ठीक रहा कि चाकू जांघ में लगी| इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराए गए विजय सिंह को 40 टांके लगे हैं| घटना रात के करीब 2 बजे की बताई जा रही है.घटना के वक्त पीड़ित घर के बाहर दरवाजे सोया हुआ था तभी दो की संख्या में आए हमलावरों ने चाकू से हमला बोल दिया|

बता दें कि पोस्टर पर लगे जान से हाथ धोने वाले की सूची में विजय सिंह का नाम चौथे स्थान पर है|इधर गांव में पोस्टर लगने से दहशत का माहौल बन गया है विशेषकर जिन लोगों के नाम पोस्टर पर अंकित किया गया है| पोस्टर पर मोसाद संगठन का उल्लेख किया गया है| गांव में धमकी भरे पोस्टर लगने की सूचना पर स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंच अपनी देखरेख में पोस्टर हटवा दिया है और इस मामले में जांच शुरू कर दी है| हालांकि थानाध्यक्ष दयानंद ओझा का कहना है कि इस मामले में अनुसंधान जारी है| पोस्टर के मुताबिक कोई जमीन विवाद का मामला प्रतीत हो रहा है| परंतु प्रशासन प्रत्येक पहलू से इसकी जांच में जुटी हुई है|

Leave a Comment

− 6 = 4