बिहार में लोगों ने महसूस किया भूकंप का बड़ा झटका

बिहार समेत देश में कई राज्यों में एक बार फिर भूकंप का बड़ा झटका महसूस किया गया। मौसम विभाग के अनुसार 6.4 तीव्रता का यह भूकंप था, जो शनिवार रात 11 बजकर 32 मिनट पर आया था। जमीन के 10 किलोमीटर नीचे नेपाल में भूकंप का केंद्र था। भूकंप का असर नेपाल से सटे बिहार और उत्तर प्रदेश के सभी सीमावर्ती जिलों में ज्यादा रहा। इसके साथ दोनों राज्यों की राजधानी तक लोगों ने झटका महसूस किया। झारखंड और पश्चिम बंगाल तक इसका असर रहा।

दिवाली से पहले नवनियुक्त शिक्षकों को मुख्यमंत्री ने दिया तोहफा

भूकंप का असर नेपाल के साथ दिल्ली, बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड के सीमावर्ती जिलों में ज्यादा दिखा। आरा भोजपुर में लोग अपने घर में सो रहे थे अचानक उनका बेड हिलने लगा। लोग फौरन घर से बाहर निकल गए। हालांकि कहीं से किसी के हताहत होने की सूचना नहीं मिली है।

55 रनों पर सिमटी श्रीलंका, वर्ल्ड कप इतिहास में भारतीय टीम की सबसे बड़ी जीत

भूकंप का केंद्र उस स्थान को कहते हैं जिसके ठीक नीचे प्लेटों में हलचल से भूगर्भीय ऊर्जा निकलती है। इस स्थान पर भूकंप का कंपन ज्यादा होता है। कंपन की आवृत्ति ज्यों-ज्यों दूर होती जाती हैं, इसका प्रभाव कम होता जाता है। फिर भी यदि रिक्टर स्केल पर 7 या इससे अधिक की तीव्रता वाला भूकंप है तो आसपास के 40 किमी के दायरे में झटका तेज होता है। लेकिन यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि भूकंपीय आवृत्ति ऊपर की तरफ है या दायरे में। यदि कंपन की आवृत्ति ऊपर को है तो कम क्षेत्र प्रभावित होगा।

Leave a Comment

3 + 1 =