ब्लैक फंगस से ज्यादा खतरनाक है वाइट फंगस

कोरोना की दूसरी लहर का खतरा पूरी तरह से देश में पसरा हुआ है इसी बीच एक नई बीमारी ब्लैक फंगस को एक खतरनाक वैरीअंट माना जा रहा था पर उससे भी ज्यादा खतरनाक वाइट फंगस नामक बीमारी सामने आया, बिहार की राजधानी पटना में 4 लोगों में इस बीमारी के लक्षण पाया गया, वाइट फंगस कैंडीडोसिस फेफड़ों के संक्रमण का मुख्य कारण है. फेफड़ों के अलावा स्किन ,नाखून, मुंह के अंदरूनी भाग और आंत, किडनी,गुप्तांग और ब्रेन आदि को भी संक्रमित करता है. पीएमसीएच के डॉक्टरों ने बताया कि 4 लोगों के करोना के लक्षण थे लेकिन वह वाइट फंगस से संक्रमित हैं मरीजों में करोना के तीनों टेस्ट रैपिड एंटीजन एंटीबॉडी और rt-pcr नेगेटिव है जांच होने पर सिर्फ एंटीफंगल दवाओं से ठीक हो गए वाइट हंगर द्वारा फेफड़ों के संक्रमण के लक्षण एचआरसीटी में कोरोनावायरस के जैसे ही दिखते हैं इसमें अंतर करना मुश्किल है मरीजों में रैपिड एंटीजन और आरती- पीसीआर नेगेटिव है कोरोना मरीज जो ऑक्सीजन सपोर्ट पर है उनमें यह फेफड़ों को संक्रमित कर सकता है

साथ ही वाइट फंगस के भी वही लक्षण है जो ब्लैकफंगस के है,  रोग प्रतिरोधक क्षमता की कमी, डायबिटीज ,एंटीबायोटिक का सेवन, या फिर स्टेरॉयड का लंबा सेवन, कैंसर के मरीज जो दवा पर हैं इन्हें वाइट फंगस हो सकता है

Leave a Comment

43 + = 45