पटना में लालू की कमी तेजप्रताप ने की पूरी, पिता के अंदाज में मनाई होली

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव पहले पटना में कुर्ता फाड़ होली खेला करते थे लेकिन पिछले दो तीन साल से वो होली नहीं मना रहे हैं। लालू कभी जेल में तो कभी किडनी ट्रांसप्लांट के बाद अस्पताल में रहे जिस कारण से होली नहीं मनी। इस बार भी लालू बिहार में होली नहीं खेल रहे हैं जिसके कारण 10 सर्कुलर मार्ग स्थित राबड़ी आवास पर सन्नाटा पसरा हुआ है। लालू की इस कमी को उनके बड़े लाल तेजप्रताप ने पूरी कर दी है। तेजप्रताप ने अपने पिता के अंदाज में पटना स्थित अपने सरकारी आवास में कार्यकर्ताओं और मीडिया कर्मियों के साथ होली मनाई।

क्या जेल से सरकार चला पाएंगे केजरीवाल, तिहाड़ के पूर्व जेलर ने बताए नियम

इस दौरान तेजप्रताप अपने पिता लालू प्रसाद यादव के स्टाइल में दिख रहे थे। उन्होंने पिता की पुरानी यादें ताजा कर दी। लोग यह चर्चा करने लगे कि हमारे नेता लालू जी भी इसी तरह से होली मनाया करते थे। तबीयत खराब रहने की वजह से वो पटना में होली नहीं मना रहे थे। इस बार उनकी पोती का जन्मदिन है इसलिए लालू दिल्ली गये हुए हैं वही परिवारवालों के साथ होली मना रहे हैं। उनकी कमी पटना में उनके बड़े लाल तेजप्रताप यादव ने पूरी कर दी है।
लालू के अंदाज में तेजप्रताप हाथ में झाल लेकर बाबा हरिहर नाथ होली गीत गाते नजर आए। तभी वहां पर मौजूद एक बच्चे पर उनकी नजर जाती है जो बिना शर्ट के ही होली खेलने उनके आवास पर आया था तेजप्रताप ने सबसे पहले उसके चेहरे पर अबीर लगाया और बच्चे को अपने गोद में उठा लिया और होली गीत गाने लगे। तेजप्रताप आज पूरी तरह होली के रंग में दिखे। पिता लालू यादव की तरह कुर्सी पर बैठ गये और हाथ में पिचकारी लेकर कार्यकर्ताओं के साथ होली खेलने लगे। इस दौरान कुर्ता फाड़ होली भी खेला गया। डीजे की धून पर कार्यकर्ताओं ने जमकर ठुमके लगाये। इस दौरान तेजप्रताप ने आवास में विराजमान तमाम देवी देवताओं को अबीर और गुलाल चढ़ाया और पिता की लंबी उम्र के लिए आशीर्वाद मांगा।

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव जहां दिल्ली में परिवार के साथ होली खेल रहे हैं वही उनके बड़े बेटे तेजप्रताप पटना में अपने कार्यकर्ताओं के साथ होली खेल रहे हैं। अपने सरकारी आवास पर तेजप्रताप ने होली मिलन समारोह का आयोजन किया है। जिसमें भारी संख्या में कार्यकर्ता तेजप्रताप के साथ होली खेलने पहुंचे हैं। होली के पावन अवसर पर पूरे बिहार वासियों को तेजप्रताप ने बधाई और शुभकामनाएं दी। वही पटना के तमाम मीडिया कर्मियों को भी बधाई और शुभकामना दी।

बिहार में होली के दिन सरकारी शिक्षकों की ट्रेनिंग होगी, केके पाठक का फरमान

तेजप्रताप ने कहा कि चुनाव अपने जगह पर अभी त्योहार मना रहे हैं। एक दूसरे से गले मिल रहे हैं अबीर और रंग लगा रहे हैं। हमारे पिता जी की जो परंपरा रही है उसको हम आगे बढ़ाने का काम कर रहे हैं। हमारी होली अलग होती है कुछ तो यूनिक रहना चाहिए। साल में एक बार होली आता है इसको प्रेम भाव से मनाने का काम हम करते हैं। तेजप्रताप ने कहा कि हमारे जो सीनियर हैं उनकों हम प्रणाम करते हैं। आज हम कोई पोलिटिकल बात नहीं करेंगे। सम्राट चौधरी क्या कहते हैं आज हम उस पर भी नहीं जाएंगे हम यही चाहते हैं कि नौजवानों को रोजगार मिले।

बता दें कि लालू और राबड़ी देवी की पोती कात्यायनी का जन्मदिन 27 मार्च को है। जिसे बड़े ही धूमधाम के साथ दिल्ली में मनाने की तैयारी है। पोती के जन्मदिन में शामिल होने के लिए लालू-राबड़ी रविवार को ही दिल्ली रवाना हो गये थे। उनके साथ तेजस्वी यादव, मीसा भारती सहित परिवार के कई लोग भी कल दिल्ली रवाना हो गये थे। दिल्ली जाने से पहले लालू, तेजस्वी और मीसा भारती ने बिहार की जनता को हैप्पी होली कहा था। लालू परिवार ने प्रदेशवासियों को होली की शुभकामनाएं दी थी।

बता दें कि लालू परिवार के लिए 27 मार्च बेहद खास दिन है। इस दिन तेजस्वी यादव और राजश्री की बीटिया कात्यायनी का पहला जन्मदिन है। कात्यायनी के एक साल पूरा होने पर दिल्ली में ग्रैंड पार्टी रखी गयी है। जिसमें पूरा लालू परिवार शामिल होगा। कात्यायनी का बर्थडे धूमधाम के साथ मनाया जाएगा। तेजस्वी की बेटी के जन्मदिन में महागठबंधन के कई बड़े नेताओं को भी आमंत्रित किया गया है।

बिहार इंटरमीडिएट रिजल्ट सीवान के मृत्युंजय कुमार बनें साइंस टॉपर

उम्मीद है कि वो इस बर्थडे पार्टी में शामिल होंगे और बिटिया कात्यायनी को आशीर्वाद देंगे। बता दें कि राजश्री और बेटी कात्यायनी पहले से ही दिल्ली में है। जन्मदिन में शामिल होने के लिए परिवार के कई लोग पहले से ही दिल्ली पहुंचे हुए हैं। लालू यादव का पूरा परिवार इस बार होली दिल्ली में मना रहे हैं और एक बार फिर पटना स्थित राबड़ी आवास में सन्नाटा पसरा हुआ है। अभी तेजप्रताप पटना में हैं और अपने कार्यकर्ताओं के साथ होली मना रहे हैं। उम्मीद जतायी जा रही है भतीजी के जन्मदिन में शामिल होने के लिए कल तक वो भी दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

बता दें कि 2023 में पिछले साल चैत नवरात्र के छठे दिन तेजस्वी यादव की बेटी का जन्म हुआ था। तब लालू ने अपनी पोती का नाम कात्यायनी रखा था। उनका मानना था कि मां दुर्गा के छठे स्वरूप मां कात्यायनी की पूजा होती है। इस दिन उनकी पोती ने जन्म लिया तो उसका नाम भी उन्होंने कात्यायनी रख दिया।

Leave a Comment

43 + = 52